महत्वपूर्ण सूचनाएं

परिचय

संयुक्त प्रवेश परीक्षा परिषद, उ०प्र०, लखनऊ अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद, नई दिल्ली के दिशा निर्देशों के अनुरूप प्रदेश स्तर पर प्रवेश परीक्षा कराकर एवं वर्गवार योग्यताक्रम में प्रदेश में चल रहे सभी पालीटेक्निक संस्थाओं में प्रवेश की कार्यवाही सुनिश्चित करने हे "संयुक्त प्रवेश परीक्षा परिषद, उ०प्र०" का गठन वर्ष 1986-87 में किया गया था। यह संस्था एक स्वशासी एवं स्ववित्त पोषित संस्था है तथा इसका मुख्यालय लखनऊ में स्थित है यह परिषद सोसाइटीज एक्ट-1860 के अधीन पंजीकृत है।

संयुक्त प्रवेश परीक्षा परिषद का संचालन एवं नियन्त्रण अधिशासी समिति के माध्यम से किया जाता है, जिसमें प्रमुख सचिव/सचिव प्राविधिक शिक्षा उ०प्र० शासन अधिशासी समिति के पदेन अध्यक्ष होते हैं। विशेष सचिव प्राविधिक शिक्षा, उ०प्र० शासन पदेन निदेशक का दायित्व निर्वाह कर रहें हैं। संयुक्त प्रवेश परीक्षा परिषद, में सचिव के पद पर प्राविधिक शिक्षा विभाग के अध्यक्ष/प्रधानाचार्य स्तर के वरिष्ठ अधिकारी को प्रतिनियुक्ति पर तैनात किया जाता है। अधिशासी समिति में कुल 14 सदस्य हैं, जिसमें प्राविधिक शिक्षा विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के अतिरिक्त उत्तर प्रदेश शासन के न्याय विभाग, वित्त विभाग एवं नियोजन विभाग के प्रतिनिधि भी सम्मिलित हैं। अधिशासी समिति में सदस्य सचिव के दायित्वों का निर्वहन सचिव, संयुक्त प्रवेश परीक्षा परिषद द्वारा किया जाता है। परिषद में सचिव के अतिरिक्त उपसचिव का एक पद है, जिस पर प्राविधिक शिक्षा विभाग के अधिकारी प्रतिनियुक्ति पर तैनात होते हैं।

शासन द्वारा निर्गत दिशा के निर्देशों के अनुसार अधिशासी समिति द्वारा कार्य संचालन हेतु मापदण्ड व प्रक्रिया निर्धारित की जाती है।

इस परिषद को शासन से कोई अनुदान प्राप्त नहीं होता है। परीक्षा के आवेदन पत्रों का मूल्य एवं परीक्षा शुल्क से प्राप्त होने वाली राशि ही इस परिषद की आय का मुख्य स्रोत है। इसी आय से परिषद के समस्त व्यय वहन किये जाते हैं।