Petrol Diesel Prices 2024: खुशखबरी! सरकार पेट्रोल-डीजल के दाम कम कर सकती है, लेटेस्ट रिपोर्ट

Petrol Diesel Prices 2024: एक और जहां देश के नागरिक बढ़ते हुए पेट्रोल और डीजल की कीमतों से परेशान चल रहे हैं वहीं दूसरी और माना जा रहा है कि केंद्र सरकार जल्द ही जनता के इस बोझ को कम करने वाली है । जैसा कि हम सब जानते हैं पेट्रोल और डीजल के दाम (Petrol Diesel Prices ) दिन ब दिन आसमान  छू रहे हैं, विपक्ष की सरकार भी पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दामों को लेकर केंद्र सरकार को कई बार घेर चुकी है । ऐसे में केंद्र सरकार लगातार कोशिश कर रही है कि ऑयल मार्केटिंग कंपनी के साथ मिलकर देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतों को कुछ कम किया जा सके। माना जा रहा है कि भविष्य में होने वाले लोकसभा चुनाव को देखते हुए जल्द ही केंद्र सरकार इस पर कोई बड़ा निर्णय लेने वाली है।

जैसा कि हम सब जानते हैं पेट्रोल और डीजल के दाम पूरी तरह से कच्चे तेल की कीमत पर निर्भर करते हैं। कच्चे तेल की दरें जब-जब बढ़ती है तब तक पेट्रोल और डीजल की कीमत (Petrol Diesel Prices 2024) बढ़ जाती है। पिछले साल भी कच्चे तेल की कीमत में काफी वृद्धि हुई थी जिसकी वजह से पेट्रोल की कीमत 115 रुपए प्रति लीटर हो गई थी। ऐसे में सरकार ने टैक्स और अन्य मूल्य में कमी कर इसको ₹100 के आसपास करने का निर्धारण किया था। परंतु अब भी आम नागरिक की नजर से देखे तो पेट्रोल और डीजल की कीमत (Petrol Diesel Prices 2024) उनके जेब पर काफी भारी पड़ रही है।

Petrol Diesel Prices 2024: Omc को हो रहा था घाटा

जानकारों की माने तो साल 2022 में पेट्रोल पर ₹17 प्रति लीटर और डीजल पर ₹35 प्रति लीटर का घाटा omc को हो रहा था जिसको कवर करने के लिए पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ाए गए थे । साल 2023 के आंकड़ों की माने तो omc अब पेट्रोल पर 8 से 10 रुपए प्रति लीटर कमा रही है वहीं डीजल पर 3 से ₹4 प्रति लीटर का लाभ वसूल रही है और अब ओएमसी अपने घाटे से भी उभर चुकी है। इसी बात का फायदा उठाते हुए ऑयल मिनिस्ट्री ओएमसी के साथ कच्चे तेल के दम पर चर्चा करने वाली है जिसमें माना जा रहा है कि ओएमसी से बात करने के पश्चात कच्चे तेल की कीमतों में कुछ हद तक कमी आएगी जिससे कि पेट्रोल और डीजल के दामों (Petrol Diesel Prices 2024) को कम किया जा सकता है।

PAN Card Se Loan 2023: पैन कार्ड से लोन मुझे मिला झट से , आपको भी मिलेगा फट से – [ 1 लाख से 5 लाख तक]

Makar Sankranti 2024 [14 या 15] और पूजा का समय?

8th Pay Commission को लेकर आया बड़ा अपडेट, नए साल में मिलेगी अच्छी खबर, केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 4% का इजाफा कन्फर्म !

2023 में Omc ने कर ली है घाटे की रिकवरी

जैसा कि हम सब जानते हैं भारत में तीन omc काम करती हैं आइओसीएच, एचपीसीएल और बीपीसीएल यह तीनों कंपनियां पिछले कुछ समय से पेट्रोल और डीजल की बिक्री को लेकर घाटे में जा रही थी। अपने घाटे को कम करने के लिए इन तीनों ओएमसी ने पेट्रोल और डीजल के दाम देश भर में बढ़ा दिए थे जिससे कि इनका घाटा कवर हो सके। साल 2023 की संयुक्त लाभ को देख जाए तो पिछली तिमाही में यह तीनों ओएमसी 28000 करोड रुपए का लाभ प्राप्त कर चुकी है और वही उनकी अंडर रिकवरी भी खत्म हो गई है इसीलिए अब सरकार या कोशिश कर रही है कि उपभोक्ताओं को पेट्रोल और डीजल के दामों में कमी कर लाभ उपलब्ध कराया जा सकता है।

वैश्विक स्तर पर कच्चे तेल के दाम का प्रभाव

साल 2023 के आंकड़े उठाकर देखे तो वैश्विक कच्चे तेल की कीमत में काफी उतार-चढ़ाव देखने को मिला था। ऐसे में क्रूड ऑयल की कीमत 95 डॉलर प्रति बैरल पहुंच गई थी। भारत पूरी तरह से कच्चे तेल के आयात पर निर्भर है । भारत में कच्चे तेल को सऊदी देश और रूस से आयात करवाया जाता है। ऐसे में कच्चे तेल का आयात देश की अर्थव्यवस्था पर भारी असर डालता है। वही कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों की वजह से ऑयल एक्सप्लोरेशन कंपनियां प्रॉफिट में जाती है और देश का जीडीपी कम हो जाता है। वही देश में पेट्रोल डीजल की कीमत (Petrol Diesel Prices 2024) भी कच्चे तेल के आधार पर तय की जाती है जैसे ही कच्चे तेल की कीमत बढ़ती है पेट्रोल डीजल के दाम में भी बढ़ोतरी हो जाती है और कच्चे तेल की कीमत में कमी होने की वजह से पेट्रोल डीजल के दाम में भी कमी देखने को मिलती है।

कच्चे तेल की मांग में आई गिरावट

हाल ही के आंकड़ों की बात करें तो वैश्विक तौर पर तेल की मांग में गिरावट आई है ।वही ओपेक और आपूर्ति कटौती में अनिश्चितता को देखते हुए तेल की कीमतों में काफी गिरावट देखी गई है। वहीं तेल की कीमतों में गिरावट आने की वजह से माना जा रहा है कि जल्द ही सरकार पेट्रोल और डीजल के दाम को भी कम कर देगी । एक सर्वेक्षण के अनुसार नाइजीरिया ,इराक द्वारा कम शिपमेंट होने की वजह से वही सऊदी अरब और व्यापक ओपेक गठबंधन कि आपसी समर्थन की कमी की वजह से वैश्विक तौर पर तेल उत्पादन में गिरावट देखी गई है। कुल मिलाकर तेल के दामों में आई इस कमी का लाभ भारत को मिलेगा जिससे महंगाई को कम करने में मदद मिल सकेगी।

LPG Gas E-KYC 2023 : जल्दी से करा ले E-KYC, नहीं तो बंद हो जायगी गैस सब्सिडी, बायोमैट्रिक कराने के बाद ही मिलेगी LPG सिलेंडर पर सब्सिडी

RBL GO Zero Balance Saving Account 2024 : 7.5% interest rates | 1 crore rupees Insurance | 1500 rupees voucher

GPay Loan 2023: अब लोन के लिए भटकने की नहीं जरूरत, बिना इनकम प्रूफ लें 3 लाख का लोन – Instant Personal Loan

गिर गए कच्चे तेल के दाम कम होंगे पेट्रोल डीजल के दाम

जानकारों की माने तो तेल की कीमत में गिरावट की वजह से इक्विटी बाजार को अच्छा लाभ मिलेगा। वे लोग जो कच्चे माल के रूप में कच्चे तेल का उपयोग करते हैं उन्हें कम दामों में अब कच्चा तेल उपलब्ध कराया जा सकेगा जिसकी वजह से भविष्य में पेट्रोल और डीजल के दाम (Petrol Diesel Prices 2024) में भी गिरावट देखने को मिलेगी। कुल मिलाकर आने वाला समय देश के नागरिकों के लिए पेट्रोल और डीजल से संबंधित कोई बड़ी खबर जरूर लाएगा जिससे नागरिक की जेब पर पढ़ने वाले बोझ में कुछ राहत मिलेगी।

jeecup

Leave a Comment